मेघालय सरकार ने राज्य के किसानों के लिए एक सराहनीय पहल की है. किसानों की दुर्दशा को समझने के लिए राज्य में एक 'किसान आयोग' का गठन किया गया है. यह आयोग किसानों की दुर्दशा को समझने और उससे बाहर निकालने के लिए उपयोगी व सक्रिय कदम उठाने की दिशा में काम करेगा.

मंगलवार को मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा ने शिलॉंग में इस आयोग के गठन की घोषणा की. उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों की बदहाली को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया है. इस आयोग से किसानों की बुनियादी समस्याओं की पहचान करने में मदद मिलेगी. इसके साथ ही राज्य के किसान जिन समस्याओं से जूझ रहे हैं उनका उचित समाधान निकालने का काम भी यह आयोग करेगा.

Read More click