कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय की सलाहकार समिति को संबोधित करते हुए केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा है कि भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् द्वारा विकसित प्रौद्योगिकी ने खाद्न्न, बागवानी, फसलों, दूध, मछली और अंडे के उत्पादन में उल्लेखनीय योगदान दिया है। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की सलाहकार समिति को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि किसानों की आमदनी को दुगना करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्टार्ट-अप मिशन को प्राथमिकता दी है। उन्होंने कहा कि आईसीएआर ने कृषि के क्षेत्र में नए आयामों को जोड़ा है जो किसानों की आय बढ़ाने के साथ-साथ रोजगार के शानदार अवसर को प्रदान करेगा। इन योजनाओं से किसानों को काफी फायदा भी होगा।

 

 

Read More Click