अभी हाल ही में 5 राज्यों के चुनाव नतीजे आए और इसमें तीन बड़े राज्यों की कमान बीजेपी ने कॉंग्रेस के हाथों में थमा दी. मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में नवनिर्वाचित कांग्रेस सरकार ने आते ही कृषि ऋण माफ करने की घोषणा कर दी. पहले कांग्रेस ने मध्य प्रदेश में किसानों का ऋण माफ़ करने का एलान किया उसके बाद राजस्थान फिर छत्तीसगढ में ऋण माफी की घोषणा की गई. बाद में तो जैसे पूरे देश में कर्ज माफी की झड़ी लग गई. बीजेपी की तरफ से सबसे पहले असम में ऋण माफी की घोषणा की गई तो ऐसे में ऋण माफी की अटकलों से उत्तर प्रदेश क्यों अछूता रहता. अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भी किसानों का ऋण माफ करने लिए करीब 15 अरब रुपये का बजट मंजूर कर दिया.

 

 

Read More click